Trending

जानिए IAS बनने के लिए NCERT की Books ही क्यो पढनी चाहिए | UPSC Preparation

जानिए IAS बनने के लिए NCERT की Books ही क्यो पढनी चाहिए | UPSC Preparation

की किताबें है सबसे बहतर की तैयारी के लिए, जानिए क्यों IAS की तैयारी के लिए जरुरी है एनसीईआऱटी की किताबें हिन्दीं में
ias

Best Books for UPSC IAS, PCS Exam Preparation | Why NCERT Books are important for UPSC Exams

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) सिविल सेवा परीक्षा आयोजित कराता है। यह भारत की एक कठिन व प्रतिष्ठित परीक्षा है। लाखों युवा छात्र देश के कोने-कोने से इस परीक्षा की तैयारी करते हैं और एक IAS Officer बनने का सपना देखते हैं।
सामान्यत: एक अभ्यर्थी यदि इस परीक्षा की तैयारी स्नातक स्तर से ही शुरू कर दें तो यह भी संभव है कि इस सेवा में जाने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है, और अभ्यार्थी सफलता हासिल कर सकता है।

IAS बनने के लिए NCERT की Books | Best books of IAS in Hindi 

IAS Free Preparation Tips

  • NCERT की प्रत्येक बुक में लगभग 13 से 19 के बीच में टॉपिक हैं।
  • एनसीईआऱटी बुक पढ़ने से बेसिक्स क्लियर होता है नए या पुराने तैयारी करने वालें Candidates के लिए जरुरी है।
  • सभी कैंडिडेट एक दो बार सभी विषयों के विविध खंडों  को तेजी से पढकर खत्म कर देते है और उन्हें लगता है पढ़ लिया है बल्कि उनको पढ़कर शार्ट नोट्स बनाना चाईए, और बेसिक्स के साथ साथ कांसेप्ट भी क्लियर करे हर टॉपिक्स पर और टॉपिक्स के व्यावहारिक पहलुओं को आपस में जोड़े।
  • NCERT के टेक्स्ट बुक पढने के बाद संबंधित सूचनाएं और जानकारियां गूगल पर सर्च करके नोटबुक में अलग से नोट कर ले। सही जानकारी ही नोट करें।
  • NCERT की बुक हर सब्जेक्ट के लिए उपलब्ध है- हिस्ट्री, ज्योग्राफी, पोलिटी, इकोनोमी, एनवायरनमेंट, इंडियन सोसायटी, सांइस & मैथमेटिक्स आदि।
  • एनसीईआऱटी की किताबें अपने अपने क्षेत्रों के विशेषज्ञ लोगों तथा शिक्षाविदों की निगरानी में लिखी जाती  है। इसमें सभी सूचनाएं स्टैंडर्ड और प्रामाणिक होती हैं।
  • छात्र कुछ ओल्ड और कुछ नई NCERT पढ सकते हैं क्योंकि जिस Subject में #update नहीं होना है उसमें ओल्ड पढ़ सकते है अपडेट वाले में नई पढ़े।
  • इन किताबों को यदि फोकस होकर रोज 3 से 4 घंटे लगभग पढते हैं तो तीन महीनो में सभी सब्जेक्ट कवर कर सकते है। यह हर स्टूडेंट्स की स्पीड और अंडरस्टैंडिंग पर निर्भर करता है
  • पढ़ने समझने के साथ साथ लेखनशैली पर भी ध्यान दे।

Free Coaching: Now students get the facility of free coaching for the preparation of competitive exam, Click here

Keep sharing with friends and keep visiting mycareerstudy.com

Posted by: My Career Study

Take a look at Given Links


I hope this article will be helpful for you. To read these type of articles. Please subscribe us. You can also share this with your friends.

www.mycareerstudy.com